कौशाम्बी के भैला मकदूमपुर गांव में आयोजित शिविर में स्वास्थ्य परीक्षण करते चिकित्सक

अमर उजाला फाउंडेशन की ओर से स्वस्थ शरीर, सुरक्षित जीवन के तहत सोमवार, 11 दिसम्बर, 2017 को मंझनपुर (कौशाम्बी) सदर ब्लॉक के भैला मकदूमपुर गांव में एक दिवसीय नि:शुल्क स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन किया गया। चिकित्सा शिविर में विभिन्न रोगों के विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा 410 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की गईl शिविर में महिला-पुरुष के साथ बीमार बच्चों का भी स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। चिकित्सीय परीक्षण के बाद अमर उजाला फाउंडेशन की ओर से सभी मरीजों को नि:शुल्क दवा वितरित की गई।

नि:शुल्क चिकित्सा शिविर का शुभारंभ सुबह 11 बजे जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने किया। उद्घाटन करते हुए उन्होंने एक-एक चिकित्सक काउंटर का निरीक्षण किया। इसके बाद साथ रहे मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. दीपेन्द्र मालवीय को हर संभव सुविधा मुहैया कराए जाने का दिशा निर्देश दिया। स्वास्थ्य चिकित्सा शिविर में बुजुर्ग महिला-पुरुषों के साथ युवाओं और बच्चों का हुजूम उमड़ पड़ा। देखते ही देखते कैंपस मरीजों से खचाखच भर गया। दोपहर दो बजे तक चलने वाला शिविर शाम चार बजे समाप्त हुआ। सुबह से ही रजिस्ट्रेशन काउंटर और दवा वितरण केन्द्र पर मरीजों की भीड़ लगी रही। इस दौरान सीएमओ डॉ दीपेन्द्र मालवीय, सीएमएस डॉ दीपक सेठ, परियोजना निदेशक राजेश कुमार मिश्र, जिला सूचना अधिकारी इन्द्रमणि पांडेय, डीपीआरओ कमल किशोर के साथ एडीओ पंचायत कमलाकांत मिश्र, सेक्रेटरी रवीकांत मिश्र, प्रधानपति पवन यादव मौजूद रहे।

सर्जन डॉ. सौरभ सिंह ने हार्निया, अपेंडिक्स, हाइड्रोसील के 20 रोगियों की जांच की। हड्डीरोग विशेषज्ञ डॉ. गौरव मेंहदी दत्ता ने गठिया बाई समेत हड्डी रोग से ग्रसित 32 मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण किया। वहीं नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. अभिजीत मलिक ने 46 मरीजों के आंख की जांच की। इसी तरह फिजीशियन डॉ. अरूण कुमार पटेल ने सर्दी, जुकाम, दमा के करीब 100 मरीजों का परीक्षण किया। महिला रोग विशेषज्ञ डॉ. सुरभि प्रकाश ने 78 महिलाओं के स्वास्थ्य की जांच की। महिला चिकित्सक डॉ. अलीमा खातून ने 70, डॉ. शना महबूब ने 55, डा. ज्योत्सना परिहार ने 48 मरीजों के स्वास्थ्य का परीक्षण करते हुए दवाएं लिखीं। वहीं कैंप में शुुगर, मलेरिया, हीमोग्लोबीन, कोलस्ट्राल आदि की जांच के लिए करीब 32 सैंपल लिए गए। इस दौरान फार्मासिस्ट डॉ कुशलानंद शुक्ला, संतोष कुमार, अफजाल अहमद, साधना देवी, रूपा देवी और दिनेश सिंह ने बराबर की सहभागिता निभाई।

जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने अमर उजाला फाउंडेशन के चिकित्सा कैंप की सराहना करते हुए कहा कि अमर उजाला फाउंडेशन से एक नई सीख मिली है। इस पर स्वास्थ्य विभाग को ध्यान देने की जरूरत है। शिविर में मौजूद सीएमओ डॉ. दीपेंद्र मालवीय को कौशाम्बी की हर न्याय पंचायत में एक-एक नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन करने का निर्देश दिया। इससे गांव के गरीब स्वस्थ रहेंगे। डीएम ने अमर उजाला फाउंडेशन की इस पहल की सराहना करते हुए इसे अच्छी सोच बताई।

Share:

Related Articles: