हरियाणा के मेवात/नूंह जिले के संगेल गांव में पाखी सेनेटरी नैपकिन प्रोजेक्ट की शुरुआत

ग्रामीण महिलाओं को स्वच्छता के प्रति जागरुक करने, महिलाओं को रोजगार, आत्म निर्भर बनाने, सशक्त बनाने और उन्हें कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों से बचाने के उद्देश्य से अमर उजाला फाउंडेशन ने मंगलवार, 31 जनवरी, 2017 से हरियाणा के मेवात/नूंह जिले के संगेल गांव में पाखी सेनेटरी नैपकिन का एक प्रोजेक्ट शुरू किया है। इसमें फिलहाल पांच गांवों की 16 महिलाएं चार-चार घंटे काम करती हैं। और एक कोअर्डिनेटर रखा गया है। फिलहाल 17 लोगों को रोजगार मिल रहा है।

अभी हमने 30 गांवों की महिलाओं को इसका लाभ देने का लक्ष्य रखा है। इस तरह से करीब 70 महिलाओं को रोजगार मिलेगा और इन गांवों की महिलाओं को बाजार से सस्ते दाम पर सेनेटरी नैपकिन मिलेंगी। पीरियड़ के दौरान महिलाओं में स्वच्छता की अज्ञानता के चलते होने वाली सक्रामक बीमारियों से बचाव के मकसद से अमर उजाला फाउंडेशन द्वारा सेनेट्री नैपकिन बनाने की योजना मेवात की महिलाओं के लिए वरदान साबित हो रहा है। आने वाले समय में हमने मेवात की 3.5 लाख महिलाओं तक पहुंचने का लक्ष्य रखा है।


 


 

Share:

Related Articles: