कानपुर के चित्रा इंटर कालेज में आयोजित पुलिस की पाठशाला को संबोधित करते डीआईजी नीलाब्जा चौधरी

कानपुर। मसवानपुर में एक शोहदे ने पड़ोसी के घर में घुसकर युवती और उसके परिजनों को जमकर पीटा। पीड़ित पक्ष ने सागर समेत उसके दोस्त नितिन, श्याम, राम सिंह और विजय के खिलाफ कल्याणपुर थाने में तहरीर दी है। एसओ ने बताया कि जांच के बाद आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी मसवानपुर निवासी एक युवती ने बताया कि पड़ोस में रहने वाला सागर कई दिनों से उसे परेशान कर रहा है। शोहदे की अश्लील हरकतों की वजह से युवती का अपने ही घर के छज्जे पर खड़ी होना दूभर हो गया। आखिर में तंग आकर उसने घरवालों को जानकारी दी। इस पर युवती के घरवालों ने सागर के परिजनों से बेटे की अश्लील हरकतों की शिकायत की। इससे झल्लाए सागर ने शुक्रवार सुबह अपने साथियों के साथ युवती के घर पर हमला बोल दिया। युवती के साथ पिता, भाई और मां को पीटने के बाद सागर साथियों के साथ भाग निकला। कल्याणपुर थाना पुलिस घटना की जांच-पड़ताल कर रही है।

‘अमर उजाला फाउंडेशन’ की ओर से नौबस्ता गल्ला मंडी स्थित चित्रा इंटर कालेज में छात्र छात्राओं के बीच ‘पुलिस की पाठशाला’ का आयोजन हुआ। मुख्य अतिथि डीआईजी नीलाब्जा चौधरी छात्र छात्राओं के बीच क्लास के मानीटर की भूमिका में नजर आए, जो बच्चों के साथी भी थे और मार्गदर्शक भी। बच्चों ने भी बिना किसी झिझक के अपने मानीटर के सामने सवालों की झड़ी लगा दी। छात्राओं ने छेड़खानी, छींटाकशी और चेन व पर्स लूट जैसी घटनाओं का हवाला दिया तो डीआईजी को कहना पड़ा कि महिलाओं और लड़कियों के प्रति पुलिस में संवेदनशीलता की कमी है, जिसे दूर करने के लिए महिला पुलिस बल की संख्या बढ़ाई जा रही है। इससे पहले डीआईजी ने ‘पुलिस अच्छी है कि बुरी’ पुलिस का मुख्य कार्य क्या है आदि के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी भी दी। कार्यक्रम में कालेज प्रबंधन की ओर से रेनू सचान, डॉ ममता श्रीवास्तव, जनमेत सिंह, ब्रजेंद्र सिंह गौतम, अखिलेश सचान, स्नेहा सचान आदि मौजूद रहे।
 
स्वरूप नगर थाना क्षेत्र की एक कोचिंग में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रही छात्रा को कई दिनों से परेशान कर रहा शोहदा अंकित शुक्रवार को आखिर फंस ही गया। छात्रा और उसके परिजनों ने शोहदे को दबोच कर गोल चौराहे पर चप्पलों से पीटा। इसके बाद उसे स्वरूप नगर थाना पुलिस के हवाले कर दिया गया। पुलिस ने शोहदे के खिलाफ छेड़खानी और अश्लील इशारे करने की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर उसे जेल भेज दिया। चकेरी निवासी यह छात्रा स्वरूप नगर स्थित एक एकेडमी में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रही है। छात्रा ने बताया कि डेढ़ महीने से लगातार शोहदा उसका पीछा कर रहा था। वह कई बार कोचिंग से घर लौटने के दौरान टेंपो में सवार होकर उसके साथ चकेरी तक आता था। शोहदे की हरकतों से तंग आकर छात्रा ने घरवालों को जानकारी दी। शुक्रवार सुबह छात्रा के चाचा, भाई समेत परिवार के अन्य लोगों ने स्वरूप नगर स्थित गोल चौराहे पर बाइक सवार शोहदे को दबोचा और उसकी जमकर धुनाई की। इसके बाद उसे स्वरूप नगर पुलिस के हवाले कर दिया। पूछताछ के दौरान शोहदे ने पुलिस को अपना नाम अंकित कनौजिया हैलट कैंपस कॉलोनी निवासी बताया है। स्वरूप नगर इंस्पेक्टर कमल यादव ने बताया कि छात्रा की तहरीर पर घटना की रिपोर्ट दर्ज कर शोहदे को जेल भेज दिया गया है। इस मौके पर छात्र-छात्राओं ने खुलकर पुलिस अधिकारियों से कई सवाल भी पूछेl 
 
सेंट्रल स्टेशन पर संपर्क क्रांति एक्सप्रेस का इंतजार रही एक विवाहिता से नशे में धुत सिपाही ने छेड़छाड़ की। विवाहिता के शोर मचाने पर परिजनों और प्लेटफार्म पर मौजूद यात्रियों ने आरोपी सिपाही को जमकर पीटा। जीआरपी के एक सिपाही ने उसे पीटने के बाद वहां से भगा दिया। कल्याणपुर निवासी युवक भुवनेश्वर (उड़ीसा) में दवा कंपनी में केमिस्ट है। वह पिछले दिनों छुट्टी पर घर आया था। शुक्रवार को वह भाभी और उनकी बहन को लेकर संपर्क क्रांति एक्सप्रेस से भुवनेश्वर जाने के लिए घर से निकला। परिवार के साथ सेंट्रल स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर-7 पर पहुंचा तो पता चला कि ट्रेन लेट है। वह वहीं ट्रेन का इंतजार कर रहा था। तभी वर्दी वाली पैंट और चेकदार कमीज पहने एक युवक पहुंचा और केमिस्ट की भाभी से छेड़खानी करने लगा। विवाहिता ने पहले हरकतों को अनदेखा किया। जब वो नहीं माना तो शोर मचा दिया। बस लोगों ने शराबी सिपाही को पकड़कर धुन दिया। यह देख जीआरपी का एक सिपाही वहां पहुंचा और आरोपी सिपाही को तीन-चार तमाचे मारे। बाद में उसे मौके से भगा दिया। बताया गया कि आरोपी सिपाही पीएसी में तैनात है और चमनगंज इलाके में रहता है। उधर, जीआरपी प्रभारी त्रिपुरारी पांडेय ने घटना की जानकारी से इनकार किया है।
 
Share:

Related Articles: