Amar Ujala Foundation

Fellowship For Acid Attack Victims

नई दिल्ली। तेजाब पीड़ित युवतियों को समाज में कदम से कदम मिलाकर चलने योग्य बनाने के उद्देश्य से अमर उजाला फाउंडेशन ने एक नई पहल की है। फाउंडेशन ने ऐसी कुछ युवतियों को शिक्षा और स्वरोजगार के लिए फैलोशिप देने का निर्णय किया है। फाउंडेशन इसकी शुरूआत तेजाब हमेल में पीड़ित चार युवतियों से कर रहा है। इस फेलोशिप के तहत अमर उजाला फाउंडेशन शिक्षा/स्वरोजगार के लिए उनका सहयोग करेगा। फेलोशिप के तहत जिनकी पढ़ाई बीच में छूट गई है व आँखें ठीक हैं और आगे पढ़ाई जारी रखना चाहती हैं, उनकी शिक्षा का खर्चा फाउंडेशन उठाएगा। इसी तरह से जिनकी दृष्टि खो चुकी है और जो स्वरोजगार के लिए कुछ करना चाहती हैं उनकी सहायता भी फाउंडेशन करेगा।
फेलोशिप के तहतत तेजाब हमले में अपनी दोनों आँखे खो चुकीं झारखंड निवासी सोनाली मुखर्जी को फाउंडेशन कंप्यूटर की शिक्षा दिलवाएगा। इसी तरह फरीदाबाद निवासी अर्चना और भारती तथा गाजियाबाद निवासी शाईना को भी स्वरोजगार के लिए फाउंडेशन आर्थिक मदद देगा।