तीन कैंप में 319 यूनिट रक्त जमा

रविवार, 31 जुलाई

आगरा। पति-पत्नी, तो कोई अपने भाई के साथ रक्तदान को आया। उत्साह ऐसा कि तीन कैंप में 319 यूनिट रक्त जमा हो गया। जिस शहर मे ऐसे महादानी हों, वहां कम से कम रक्त की कमी से किसी की मौत नहीं हो सकती। अमर उजाला का अभिनव अभियान मां तुझे प्रणाम लोगों को राष्ट्रगान के सम्मान का संदेश तो दे ही रहा, अमर उजाला फाउंडेशन रक्तदान के लिए भी अलख जगाए हुए है। संकल्प संस्था की अगुवाई में नामनेर बाजार कमेटी, लपका टू आपका, यूथ फोरम और ब्राह्मण एकता मंच ने नामनेर स्थित दुर्गा मंदिर में कैंप लगाया। यहां 91 यूनिट रक्तदान हुआ। फाउंडेशन की ओर से उन्हें प्रशस्ति पत्र भी मिला।

नामनेर कैंप में पीपलमंडी के मोहम्मद रियाज और मोहम्मद आमिर दोनों भाइयों ने रक्तदान किया। प्रीति सिंह और कंचन गुप्ता पहली बार रक्तदान करने आई थीं। बोलीं, रक्तदान से कमजोरी नहीं आती, कई बीमारियों की जांच भी हो जाती है। ऐसी ही सोच के साथ रविन पाल- शर्मीली और मनीष बुद्धिराजा-नीतिका बुद्धिराजा दंपति ने भी रक्तदान किया। संयोजक और संकल्प के अध्यक्ष बृजेश पंडित का कहना है कि उनके रक्त से किसी का जीवन बचे, इससे बड़ा पुण्य कोई नहीं। जिंदगी बचाई, पर्यावरण भी बचाएं

रक्त से जिंदगी तो पौधों से पर्यावरण बचता है। इसी सोच के साथ भारत विकास परिषद संपर्क शाखा ने अग्रसेन सेवा सदन कमला नगर में रक्तदान शिविर लगाया। इसमें 165 यूनिट रक्त जमा हुआ। महिलाऔं का जोश देखते ही बना। सांईधाम विद्यालय की शिक्षिकाओं समेत 40 महिलाऔं ने रक्तदान किया। इन महादानियों को अनूठा उपहार के तौर पर पौधे दिए। इनको रोपकर रक्षा का संकल्प दिलाया। शाखा अध्यक्ष अजीत फौजदार ने सभी रक्तदाताओं का आभार जताया।

63 ने किया रक्तदान 350 मरीज लाभान्वित

खत्री बंधु महासभा ने हेल्प आगरा के सहयोग से भारत रत्न राजर्षि पुरुषोत्तम दास टंडन की 134वीं जयंती रक्तदान करके मनाई। कमलेश टंडन नर्सिंग हास्पिटल में लगे कैंप में 63 महादानियों ने रक्तदान किया। यहां लगे स्वास्थ्य जांच शिविर में 350 मरीज भी लाभान्वित हुए। रियायती दर पर जांच हुई।