Amar Ujala Foundation

अमर उजाला फाउंडेशन’ के शिविर में दिखा उत्साह रक्तदान कर उम्रदराजों ने भी जोश दिखाया

जम्मू। स्वैच्छिक रक्तदाता दिवस पर वीरवार को ‘अमर उजाला फाउंडेशन’ के रक्तदान शिविर में रक्तदाताओं ने रक्तदान करके महादान किया। इस पहल में हर वर्ग के लोगों ने दूसरों की जिंदगी बचाने का संदेश दिया। रेडक्रास अटेंडेंट सराय महेशपुरा चौक पर जीएमसी के ब्लड ट्रांसफ्यूजन मेडिसन विभाग, रीजनल रेडक्रास सोसायटी और जेएंडके एड्स कंट्रोल सोसायटी के सहयोग से मानव कल्याण के लिए लगाए गए इस शिविर में उम्रदराज लोगों ने भी दिखाया कि जोश के आगे बुढ़ापा ज्यादा मायने नहीं रखता है। रक्तदान के लिए पहुंचे रक्तदाताओं को अमर उजाला फाउंडेशन की ओर से प्रशस्ति पत्र जारी किए गए।
अटेंडेंट सराय में सुबह दस बजे रक्तदान शिविर शुरू किया गया, जो दोपहर दो बजे तक जारी रहा। शिविर में सामाजिक कार्यकर्ता, विद्यार्थियों, कर्मचारियों के साथ अमर उजाला परिवार के सदस्यों ने रक्तदान किया। शिविर में राहगीर प्रेरित होकर पहुंचे। रक्तदाताओं के पते, मोबाइल नंबर, ईमेल, ब्लड ग्रुप आदि महत्वपूर्ण जानकारियां ली गईं, ताकि भविष्य में जरूरतमंद मरीजों के लिए दोबारा वे रक्तदान कर सकें। रक्तदाताओं को जेएंडके एड्स कंट्रोल सोसायटी की आधुनिक मोबाइल ब्लड बस ने आकर्षित किया। इस बस में वातानुकूलित से लेकर हर आधुनिक सुविधा उपलब्ध थी। बस से लोड स्पीकर के माध्यम से लोगों को रक्तदान के लिए जागरूक किया गया। बस के भीतर रक्तदान के दौरान रक्तदाताओं के लिए म्यूजिक सिस्टम, एलईडी आदि मनोरंजन के साधन थे। रक्तदान के लिए रक्तदाताओं को प्रेरित करने में हिंदू शिवसेना के प्रधान कृष्ण मन्हास ने योगदान दिया। अमर उजाला जम्मू के यूनिट हेड अनिल मन्हास ने भी रक्तदान किया। इसके अलावा जम्मू वेस्ट असेंबली मूवमेंट के प्रधान सुनील डिंपल ने भी रक्तदान कर अन्यों को प्रोत्साहित किया। जीएमसी के ब्लड ट्रांसफ्यूजन मेडिसन विभाग के एचओडी प्रो. विजय साहनी और रीजनल रेडक्रास सोसायटी के सचिव रविचंद्र पूरी ने अमर उजाला फाउंडेशन के ऐसे प्रयासों की सराहना की। शिविर को सफल बनाने में डा. रेणु, पैरामेडिकल स्टाफ में कमल सिंह, लखविंदर कौर, सोनू शर्मा, मदन, बस के साथ रफीक, विक्की ने सेवाएं दीं।
‘अमर उजाला फाउंडेशन’ के शिविर में दिखा उत्साह
रक्तदान कर उम्रदराजों ने भी जोश दिखाया
अमर उजाला फाउंडेशन के विशेष रक्तदान शिविर में उम्र दराज लोगों ने भी जोश दिखाया। रक्तदान के लिए पहुंचे साठ वर्षीय सुपरिंटेंडिंग इंजीनियर हाइड्रोलिक शिव चंद्र नंदा ने कहा कि रक्तदान से बड़ा कोई दान नहीं। रक्तदान से शरीर के भीतर कई बीमारियों से राहत मिलती है।
पहुंचे दिहाड़ीदार
स्थायी करने की मांग के लिए आंदोलन कर रहे दिहाड़ीदार भी अमर उजाला फाउंडेशन के विशेष रक्तदान शिविर में रक्तदान के लिए पहुंचे। उन्होंने दिखाया कि वे हक की लड़ाई लड़ने के साथामाजिक कल्याण के लिए भी आगे हैं।